Ola S1X की टॉप 5 बातें, आखिर हमें क्यों खरीदना चाहिए

कैब एग्रीगेटर और इलेक्ट्रिक टू व्हीलर मैन्युफैक्चरर कम्पनी ओला अपने दमदार और शानदार इलेक्ट्रिक स्कूटर के वजह से पूरे ईवी सेक्टर पर राज कर रही है। ऐसे में कम्पनी ने इस 15 अगस्त को लोगो के सामने एक नई इलेक्ट्रिक स्कूटर Ola S1X को अनवील किया है जो काफी बेहतर है।

इस इलेक्ट्रिक स्कूटर में कम्पनी ने सारे बेहतर फीचर्स और रेंज देने का दावा किया है। आज इस पोस्ट में वो पांच बाते बताने वाले है की आखिरकार आपको यह इलेक्ट्रिक स्कूटर क्यों खरीदना चाहिए। आइये डिटेल से उन बातों को समझते हैं..

Top 5 thing to know about Ola S1X

Top 5 thing to know about Ola S1X
Top 5 thing to know about Ola S1X

डिजाइन

सबसे पहले अगर डिजाइन की बात करे तो कंपनी इसे काफी अट्रैक्टिव और शार्प लुक देने की कोशिश की है। इसमें फंकी ड्यूल टोन शेड्स को दिया गया है जो विजुअल अट्रैक्टिव बनाता है। बाकी के डिजाइग पुराने स्कूटर की तरह की मिलते जुलते है।

बैटरी, मोटर और परफॉर्मेंस

सबसे खास बात इसमें आपको हाई परफार्मेंस बैटरी दी गई है। इसमें 2 kwh और 3 kwh की दो हाई परफार्मेंस बैटरी दी गई है जिसके साथ 6 kw की क्षमता वाले इलेक्ट्रिक मोटर को जोड़ा गया है। यह मोटर बेहतर टॉर्क और पावर प्रोड्यूस करने में सक्षम है।

रेंज और टॉप स्पीड

कंपनी दावे के मुताबिक यह इलेक्ट्रिक स्कूटर 3 kwh बैटरी के साथ सिंगल चार्ज में करीब 151 किलोमीटर की रेंज और 2 kwh बैटरी पैक के साथ 91 किलोमीटर की रेंज देने का दावा किया जा रहा है। वही इसमें 90 किलोमीटर प्रति घंटे की टॉप स्पीड देखने को मिलती है।

कीमत

इस इलेक्ट्रिक स्कूटर को कम्पनी ने दो बैटरी पैक के साथ लॉन्च किया है जिसकी कीमत कंपनी ने अलग-अलग रखी है। 3 kwh बैटरी पैक वाली वैरिएंट की शुरुआती कीमत 89,999 रुपए तो 2 kwh बैटरी पैक की शुरुआती कीमत 79,999 रुपए है।

इस कीमत के साथ आप इस इलेक्ट्रिक स्कूटर को केवल 21 अगस्त तक ही थी। उसके बाद इसकी कीमत में इजाफा कर दिया गया है। नए कीमत में 3 kwh बैटरी पैक वाली की कीमत 99,999 और 2 kwh बैटरी पैक वाली की कीमत 89,999 रुपए ही जायेगी।

WhatsApp चैनल ज्वाइन करें Join Now

Avatar of Alex

Alex पत्रकारिता में डिप्लोमा करने के बाद अपने अनुभव को पिछले 3 साल से कंटेंट के रूप में शेयर कर रहे हैं। इन्होंने बतौर फैक्टचेकर और कंटेंट राइटर के रूप में काम किया है. इनका मकसद शुद्ध और रियल कंटेंट लोगों तक पहुंचाना है।

Leave a Comment